राज्य

कब होगी कार्रवाई, अभी तो ट्रान्स्फर भी नहीं हुआ

देहरादून - मुख्यमंत्री के आदेशों का पालन खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अधिकारी नहीं कर रहे हैं। आदेश के 15 दिन बीतने के बाद भी अभी तक स्थानांतरण हुए अधिकारियों-कर्मचारियों को रिलीव नहीं किया गया है। कार्रवाई तो दूर की बात है।
चावल घोटले की एसआईटी जांच रिपोर्ट आने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने आरएफसी कुमाऊं का सीमा विस्तार खत्म कर दिया था। साथ ही विभाग के अन्य अधिकारियों को स्थानांतरण करने और तीन दिन में कार्रवाई करने के आदेश जारी किए थे।

मुख्यमंत्री के आदेश के बाद विभाग ने गढ़वाल मंडल के कर्मचारियों को कुमाऊं में और कुमाऊं मंडल के कर्मचारियों का गढ़वाल में स्थानांतरण किया था। साथ ही आदेश में तीन दिन के अंदर नई तैनाती स्थल में ज्वांइन करने को कहा गया था।

आदेश जारी होने के लगभग 15 दिन बीत चुके हैं लेकिन चार अधिकारियों ने ही कुमाऊं रीजन में ज्वांइन किया है। आरएफसी कुमाऊं ललित मोहन रयाल से जब बात की गई तो उनका कहना था कि गढ़वाल मंडल से कर्मचारी-अधिकारियों के आने के बाद यहां के कर्मचारियों को रिलीव किया जाएगा।