दिशा तथा दशा

काम की बात

काम की बात
वारेन बफे को अमेरिका की पत्रिका फाच्यून की ‘‘हीरो एंड जीरा’’ की सूची में हीरो का दर्जा प्राप्त है। फाच्यून के अनुसार जब निवेशक बजार से भाग रहे थे तो ऐसे में शेयर बाजार में निवेश में बफे बिल्कुल भी नहीं हिचके चाहे ऐसे समय में उन्होंने निवेशकों को आत्मविश्वास दिया जब सब घबराये हुए थे। इनके कुछ विचार जो अनमोल हैं, आप से साझा कर रहे हैं।
वारेन बफे के इन महत्वपूर्ण विचारों को आपके साथ साझा कर बहुत ही हर्ष की अनुभूति हो रही है। ये वो क्रान्तिकारीविचार या दिशा निर्देश हैं जो जीवन में परिर्वतन ला सकते हैं।
ー कमाई के बारे में बफे ने कहा कि एकल आय पर निर्भर कभी नहीं रहना चाहिये। दूसरे स्रोत बनाने के लिए हमेशा निवेश करना चाहिये ताकि एक में अवरोध आने पर दूसरा आधार प्रदान करे।
ー खर्च के बारे में कहा कि यदि आप ऐसी चीजों में खर्चा करते हैं या खरीदते हैं जिसकी आपको जरूरत नहीं है तो शीघ्र ही आपको उसे बेचना पड़ेगा जिसकी जरूरत है।
ー बचत जो कि एक महत्वपूर्ण कार्य है। खर्च करने के बाद जो बचता है उसे ना बचायें लेकिन बचत के बाद जो बचता है उसे खर्च करें।
ー जीवन में जोखिम लेना आगे बढ़ने के लिये महत्वपूर्ण है लेकिन दोनों पैरों से कभी भी नदी की गहराई का मूल्यांकन नहीं करना चाहिये। डूबने का खतरा बना रहता है
ー और जो कि भविष्य के लिये सबसे जरूरी है। कभी भी सारे अण्डे एक ही पात्र में नहीं रखने चाहिये, अंजाम आप जानते हैं।
ー सबसे महत्वपूर्ण चीज है उम्मीद। इसे कभी मत छोडि़ये, लेकिन ईमानदारी बहुत मंहगा उपहार है। घटिया लोगों से यह उम्मीद न करें।
ー ये वारेन बफे के बड़े ही महत्वपूर्ण विचार है। आशा है कि आप भी लाभान्वित होंगे।