अपना शहर

कौसानी में खुला हिलांस कत्यूर जैविक उत्पाद केन्द्र

बागेश्वर- कौसानी में आज एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना एवं ग्राम्य विकास विभाग की ओर से हिलांस कत्यूर फ्लेवर हिमगिरी आजीविका स्वायत्त सहकारिता प्राकृतिक जैविक उत्पाद केन्द्र का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि विधायक चंदन रामदास ने कहा कि आजीविका की इस परियोजना से ग्रामीण किसानों की आर्थिकी को मजबूती प्रदान करने में मदद मिलेगी। इस केन्द्र में ग्रामीण अपने उत्पादों को लाकर बेच सकते हैं। उन्होंने कहा कि कौसानी का क्षेत्र चाय उत्पादन और जैली, जेम और अचार के लिये बेहद मुफीद है। इसलिये आजीविका परियोजना के तहत इन कार्यों को भी प्राथमिकता से किया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि कौसानी में बंद पड़ी चाय फैक्ट्री को शीघ्र खोला जायेगा। इसके लिये प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने पर्यटकों को आकर्शित करने के लिये बैजनाथकौसानी पिनाकेश्वर तक पर्यटन सर्किट तैयार करने की भी बात कही। उन्होंने कहा कि इस संबंध में उनकी विभागीय मंत्रियों से वार्ता हो चुकी है। उन्होंने इस दौरान लोगों से स्वच्छता पर विशेश ध्यान देने की अपील की। उन्हेांने कहा कि निरोगी और स्वच्छ वातावरण के लिये दूसरों पर निर्भर रहने की बजाय लोगों को स्वयं पहल करनी होगी। इस मौके पर जिलाधिकारी रंजना ने कहा कि आजीविका के इस केन्द्र से ग्रामीणों को अपना बाजार मिल गया है। ग्रामीण अपने उत्पादों को यहां लाकर बेच सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी योजना के लिये दृढ़ निश्चय बेहद जरूरी है। इसलिये इस केन्द्र की सफलता आजीविका समूह और ग्रामीणों की इच्छा पर निर्भर है। उन्होंने कहा कि भविश्य में इस केन्द्र का विस्तारीकरण किया जायेगा। उन्होंने आजीविका परियोजना से जुड़े लोगों से कहा कि केन्द्र में स्थानीय उत्पादों पर आधारित पकवानों की व्यवस्था करे ताकि पर्यटक इसका आनंद ले सकें। कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि गरूड़ टैक्सी स्टेंड के पास मंडी समिति की और से बनाये गये विपणन केन्द्र को कृशि विभाग को हस्तांतरित कर दिया गया है। अब इस केन्द्र से कृशि विभाग स्थानीय उत्पादों का विक्रय करेगा। इससे किसानों को इस केन्द्र में लाकर अपने उत्पादों को बेचने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि यदि आवश्यकता पड़ी तो गरूड़ ब्लाक परिसर में खाली सरकारी भवन में कोल्ड स्टोरेज भी बनाया जा सकता है। विपणन केन्द्र का शुभारंभ पूजा अर्चना के बाद जिलाधिकारी और विधायक ने फीता काटकर किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता चम्ंपा गोस्वामी ने की। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य शिव सिंह बिश्ट, पुश्पा कोरंगा, जिला विकास अधिकारी केएन तिवारी, उपजिलाधिकारी गरूड़ सुंदर सिंह, आजीविका परियोजना अधिकारी धर्मेन्द्र पांडे, महाप्रबंधक उद्योग बीसी पाठक, ग्राम्या परियोजना निदेशक एनके सिंह स्वंय सहायता समूह के पदाधिकारी आदि मौजूद थे।