अपना शहर

खुलने के मात्र 24 घंटे भी नहीं चल सका वैली ब्रिज, पैनेल में आया झुकाव

नैनीताल- भवाली-ज्योलीकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात एक बार फिर बंद कर दिया गया है। एनएच के अधिकारियों की मानें तो वीरभट्टी में निर्मित वैली ब्रिज पर लगातार भार वाहन गुजरने से पुल में झुकाव आ गया है। 68 दिन बाद शनिवार को ही इस पुल पर यातायात सुचारू किया गया था। फिलहाल 48 घंटे के लिए यातायात बंद कर दिया गया है। इसके चलते ट्रैफिक वाया भीमताल डायवर्ट किया गया है।
बता दें कि शनिवार दोपहर 3.30 बजे वैली ब्रिज को 68 दिन बाद यातायात के लिए खोला गया था। इस दौरान जेसीबी से ट्रायल के बाद सबसे पहले भूमियाधार निवासी प्रमोद साह की कार गुजरी थी। इसके बाद लगातार यातायात संचालित किया गया। वाहनों के दबाव से रात्रि में ही वैली ब्रिज के एक छोर पर काफी झुकाव आ गया। इसके चलते रविवार सुबह एनएच के अभियंता मौके पर पहुंचे। उन्होंने इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। झुकाव अधिक होने के कारण रविवार शाम चार बजे से यहां यातायात 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। साथ ही भवाली व हल्द्वानी से ट्रैफिक वाया भीमताल डायवर्ट कर दिया गया है। एनएच के अधिकारियों के अनुसार रात्रि में लगातार सामान से लदे भारी ट्रकों के एक साथ गुजरने से वैली ब्रिज की स्थिति खराब हुई है। हालांकि त्वरित प्रभाव से विशेषज्ञों की राय पर ब्रिज दुरुस्त किया जाएगा। इसके बाद शीघ्र ही दोबारा यातायात संचालित किया जाएगा।
बीते दिवस पुल शुरू होते ही सोशियल मीडीया में राजनीतिक पार्टियों के पदाधिकारियों द्वारा श्रेय लेने का काम शुरू हो गया था , लेकिन गुणवत्ता की कलाई मात्र 24 घंटे में ही खुल गयी. पूर्वा क्षेत्रीय विधायक एवं महिला कॉंग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्या ने त्रिवेंद्र सरकार परनज तंज़ कसते हुए कहा की डबल इंजन की सरकार कुछ नही कर पा रही है. ज़ीरो टॉलरेन्स की बात करने वाली सरकार में हाल यह है की दो दिन के अंदर पुल का डबल इंजन फेल हो गया है.