अपना शहर

जिला अस्पताल में शेड्यूल-एच की दवाओं का अकाल

नैनीताल : शहर के बीडी पांडे अस्पताल में शेड्यूल-एच की दवाओं की पिछले कई माह से आपूर्ति ठप है। नॉरकोटिक्स से संबंधित इन दवाओं की आपूर्ति नहीं होने से बच्चों व महिलाओं के ऑपरेशन प्रभावित हो रहे हैं। डीएम के निरीक्षण के बाद यह मामला समाने आया तो फिलहाल बेस अस्पताल हल्द्वानी से दवा का इंतजाम किया गया है। साथ ही दवा के लिए डीएम को सुझाव दिए गए हैं।

दरअसल, नशेडि़यों के शेड्यूल एच के इंजेक्शन के नशे के तौर लगाने के बढ़ते मामलों के बाद शेड्यूल एच की दवा की आपूर्ति नियंत्रित कर दी गई। नॉरकोटिक्स एक्ट के प्रावधानों को प्रभावी करते हुए मेडिकल स्टोरों को भी स्टॉक मेनटेन करते हुए रजिस्टर बनाने को कहा गया, जिसके बाद नतीजा निकला कि मेडिकल स्टोरों ने झंझट को देखते हुए आपूर्ति में ब्रेक लगा दिया। सेंट्रल मेडिकल स्टोर देहरादून से पिछले छह माह से इन दवाओं की आपूर्ति नहीं हुई है। अस्पताल सूत्रों के अनुसार एंड्रोपीन, डाइजोपाम, एलपोजोलाम तथा केटामिन इंजेक्शन के अलावा हाइजीपॉम महिलाओं व बच्चों के ऑपरेशन के लिए बेहद अहम है। फार्मासिस्ट आइके जोशी के अनुसार फिलहाल इन दवाओं का बेस अस्पताल हल्द्वानी से इंतजाम कर लिया गया है। यहां यह भी बता दें कि शेड्यूल-एच में ही एंटीबायोटिक दवाएं भी शामिल हैं।

-------------

चार दिन में पांच हजार की बिक्री

बीडी पांडे अस्पताल परिसर में खुले प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र में पिछले चार दिन में अब तक मात्र पांच हजार रुपये की दवाएं बिक्री की हैं। जिसका बाजार मूल्य करीब 50 हजार आंका गया है। केंद्र सूत्रों के अनुसार फिलहाल सेंटर में 138 दवाएं उपलब्ध हैं, जैसे ही आपूर्ति होगी, बिक्री बढ़ने की पूरी उम्मीद है।