अपना शहर

पत्रकारिता भटक रही है अपनी दिशा से , पत्रकारों की सुरक्षा के लिए सरकार को उठाने होंगे व्यापक कदम - डा. गिरीश रंजन तिवारी

हल्द्वानी- नेशनलिस्ट यूनियन आॅफ जर्नलिस्टस उत्तराखण्ड के द्विवार्षिक अधिवेशन में पत्रकारों की समस्याओं को हर कीमत में हल करने का भरोसा दिलाया गया। साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून बनाये जाने की बकालत की गई। 


यहां नवाबी रोड स्थित एक बैंकट हाल में आयोजित कार्यक्रम में अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ पत्रकार एवं कु.वि.वि.पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष डा. गिरीश रंजन तिवारी ने कहा कि पत्रकारिता अपने दिशा से भटक रही है और चंद पूूॅजीपतियों के हाथों में अपने मूल उद्देश्यों से भटक रही है। गिरते पत्रकारिता का स्तर भी  अत्यधिक  चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में भी पत्रकारिता के गिरते स्तर एवं पत्रकारों की सुरक्षा के लिए सरकार को व्यापक कदम उठाने होंगे। उन्होंने एनयूजे उत्तराखण्ड के द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रसंशा करते हुए कहा कि एनयूजे पहला ऐसा संगठन है जो पत्रकारिता के साथ-साथ समाज के हर पहलू को छूते हुए काम कर रहा है। ऐसे ही पत्रकारों के हितों की लड़ाई लड़ रहा है। एनयूजे चाहे किसी भी संगठन का पत्रकार क्यों न हो उसके हितों की रक्षा का काम कर रहा है। बतौर मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद ने कहा कि पत्रकारों की भूमिका आज हर पल है मीडिया के कार्य और संगठनों ने पत्रकार हितों के लिए जो कदम उठाये हैं उसे सभी को सहयोग करना चाहिए। उन्होंने एनयूजे की पहल को सराहते हुए कहा कि यह पहला संगठन है जो समाज की हर वर्ग को स्थान देते हुए पत्रकार हित में काम कर रहा है। कार्यक्रम में बतौर विशिष्ठ अतिथि भीमताल के विधायक राम सिंह कैड़ा ने कहा कि पत्रकार सब पर नजर रखते हैं लेकिन उनके हितों की रक्षा के लिए सरकार के समक्ष पहल की जायेगी। उनकी तरफ से जो भी सहयोग होगा उसे पूरा कराने का भर्सक प्रयास किया जायेगा। इस मौके पर मण्डी समिति के सभापति सुमित हृदयेश ने कहा कि आज का मीडिया वह जो राष्ट्रीय स्तर पर काम कर रहे हैं वह पत्रकारिता दिवस से अधिक 31 मार्च को महत्व दे रहे हैं यानि की निष्पक्ष एवं स्वच्छ  पत्रकारिता के बजाय व्यवसायिक पत्रकारिता की ओर अधिक ध्यान देते दिखाई दे रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के मीडिया घराने और संगठन काफी हद तक सराहनीय कार्य एवं पहल कर रहे हैं। उन्होंन एनयूजे उत्तराखण्ड के क्रियाकलापों की प्रशंसा की। इस मौके पर पूर्व दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री दिनेश कुंजवाल ने भी विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में बतौर विशिष्ठ अतिथि बोलते हुए मेयर डा. जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला ने कहा कि पत्रकारों की सुरक्षा के लिए सरकार के समक्ष प्रस्ताव रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज का दर्पण है और पत्रकारिता एक मिशन है। कार्यक्रम में सूचना उप निदेशक योगेश मिश्रा ने कहा कि सरकार पत्रकारों के हित के लिए गंभीर है। इस वर्ष मीडिया के लिए 85 करोड़ का बजट भी रखा गया है ताकि पत्रकार कल्याण कोष और विज्ञापन बिलों सहित सभी मदों में पर्याप्त तरीके व्यय हो सके। उन्होंने कहा कि मीडियाकर्मियों की सुरक्षा के लिए पत्रकार कानून सुरक्षा के लिए जो पहल पत्रकार संगठनों द्वारा की जा रही है। सरकार उसे निश्चित तौर पर गंभीरता से लेगी। इस मौके पर एनयूजे के अध्यक्ष त्रिलोक चन्द्र भट्ट ने कहा कि सरकार के सामने पत्रकारों की सुविधा के लिए प्रत्येक जिला स्तर पर बिलों की भुगतान के लिए सरल प्रक्रिया लागू की जानी चाहिए ताकि निदेशालय से होने वाले विलंबों से बचा जा सके। उन्होंने पत्रकार सुरक्षा कानून हर हाल में लागू किये जाने का प्रस्ताव रखा और कहा कि सरकार इसे लागू नहीं करती है तो वह प्रदेश स्तर पर आन्दोलन करने के लिए भी बाध्य हो सकते हैं। 

संगठन के बारे में विस्तार से चर्चा करते हुए प्रदेश महामंत्री निशीथ सकलानी ने कहा कि एन यू जे ने बीते 5 वर्षोें में व्यापक प्रगति हासिल की है। पत्रकार कल्याण कोष और प्रिंट मीडिया समिति में एनयूजे उत्तराखण्ड की प्रतिनिधित्व ने पत्रकार एवं मझौले समाचार पत्रों की मान्यता पर व्यापक कार्य किया है। उन्होंने दावा करते हुए सभी को भरोसा दिलाया कि यदि किसी भी प्रकार की समस्याओं से पत्रकार जूझते हैं तो उनके संज्ञान में लाया जाये। इस मौके पर प्रदेश सचिव सुरेश पाठक ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार भुवन जोशी ने किया। कार्यक्रम नैनीताल जिला इकाई के जिलाध्यक्ष राजेश सरकार एवं महामंत्री गुरमीत सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि सुमित्रा प्रसाद ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस दौरान सांस्कृतिक दल ने छोलिया नृत्य प्रस्तुत कर उपस्थित अतिथियों का मन मोह लिया। इस दौरान अतिथियों ने संगठन की स्मारिका उत्तर पथ का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में एक बुक स्टाल भी लगाया गया था। जिसकी समस्त पत्रकारों ने जमकर सराहना की।  इस दौरान फोटो जर्नलिस्टों के द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी को सराहा गया। छायाकार कमल राजपाल, अजय कुमार , राजेन्द्र सिंह बबली,दीप बिष्ट बाबा व खालिद खान आदि द्वारा लगाई गयी फोटो प्रदर्शनी की सराहना की गई। कार्यक्रम में रूद्रपुर, काशीपुर, चम्पावत, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा कोटद्वार, देहरादून, हरिद्वार समेत विभिन्न जनपदों से आये पत्रकारों ने भाग लिया।