हमारे लेखक

स्वच्छता संदेश

स्वच्छता संदेश
- सुदिक्षा बिष्ट (एम.एल. साह बाल विद्या मन्दिर, नैनीताल में अध्ययनरत्)

इधर - उधर न शौच करना,
घर में शौचालय है बनाना।
शौचालय जो घर में होगा,
गंदगी न घर में आयेगी।
गंदगीे घर जो नहीं आयेगी,
बीमारी भी नहीं आयेगी।

स्वच्छता पर ध्यान रखना,
घर-घर में शौचालय बनवाना।
खुले में गंदगी करना,
वृक्षों का भी नाश है।
पर्यावरण को स्वच्छ रखना,
यही हमारा कर्म है।